अभिनव इमरोज़ कवर पेज - 1


मेरी साधना के प्रसाद,
मेरी प्रतीक्षा के फल,
मेरे प्रश्नों के उत्तर,
मेरी प्यास की जल,
क्या वही हो तुम ?


-उमा त्रिलोक


Popular posts from this blog

अभिनव इमरोज़ दिसंबर 2021 अंक

कर्मभूमि एवं अन्य उपन्यासों के वातायन से प्रेमचंद      

भारतीय साहित्य में अन्तर्निहित जीवन-मूल्य