ईद मुबारक हो !

 दोस्ती, 

मुहब्बत , 

खूलुस 

और 

दुआओं में  तहलील  मुक़द्दस 

ईद मुबारक हो !


देवेंद्र बहल, वसंतकुँज, नई दिल्ली, मो. 9910497972

Popular posts from this blog

भारतीय साहित्य में अन्तर्निहित जीवन-मूल्य

कर्मभूमि एवं अन्य उपन्यासों के वातायन से प्रेमचंद      

बाल स्वरूप राही