श्रद्धांजलि


कवि, आलोचक, नाटककार, आत्मपरक साहित्य-शिल्पी, 

कविता, आलोचना, नाटक, डायरी, आत्मकथा, संस्मरण, साक्षात्कार 

और पत्र संवाद के प्रयोगधर्मी हस्ताक्षर 

     डाॅ. नरेन्द्र मोहन जी को 

       अभिनव इमरोज़ एवं साहित्य नंदिनी 

  परिवार की ओर से 

  सादर नमन!